किडनी के उपचार कितने प्रकार के होते हैं ?

Nephrotic Syndrome Disease

आयुर्वेदिक नेफ्रोटिक सिंड्रोम इलाज, कर्मा आयुर्वेदा, किडनी ट्रीटमेंट इन इंडिया – डॉ. पुनीत धवन

किडनी रोग क्या है? किडनी की उम्र के रूप में, वह अपनी कार्यात्मक क्षमता ( कार्य करने की क्षमता) खोना…

Polycystic Kidney Disease

आयुर्वेदिक पॉलीसिस्टिक किडनी रोग इलाज (पीकेडी), कर्मा आयुर्वेदा – डॉ. पुनीत धवन

किडनी कैसे काम करता है? किडनी व्यक्ति के शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और निचले हिस्से में स्थित हैं। किडनी…

Acute Kidney Disease

आयुर्वेदिक एक्यूट किडनी रोग उपचार एकेडी, किडनी ट्रीटमेंट

एक्यूट किडनी रोग (एकेडी), एक्यूट किडनी के बारे में, कर्मा आयुर्वेदा – डॉ.पुनीत धवन | एक्यूट किडनी विफलता की…

किडनी खराब होने के संकेत

जी मिचलाना

जी मिचलाना में ऐसा महसूस होता हैं जैसे रोगी के मन में घबराहट-सा होना हैं और उल्टी का मन करता है, लेकिन वास्तव में उल्टी नहीं होती हैं। ऐसा बच्चों, व्यस्क और बूढ़े किसी भी उम्र में हो सकता हैं। इसलिए आप सावधान हो जाएं, क्योंकि ये किडनी रोग भी सकता हैं।

उल्टी होना

उल्टी आपको कई करणों से हो सकती हैं। जी हां, जैसे फूड पॉइज़निंग या कहीं सफर पर करने से होती है, लेकिन अगर आप इन वजह से बेहद दूर हैं तो आप तूरंत जांच करवाए, क्योंकि ये गुर्दे की बीमारी भी हो सकती है।

भूख में कमी

अगर अचानक से भूख में कमी होने लगे और वजन घटने लगे तो ये लक्षण गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं जैसे किडनी रोग भी हो सकता हैं। जी हां, इस बीमारी में आपको भूख नहीं लगती है और वज़न भी घटने लगता हैं।

थकान और कमजोरी महसूस होना

अधिक काम के बाद शरीर में थकान महसूस होना एक आम बात है, लेकिन अगर आपको बिना काम करें थकावट होने लगे और शरीर में कमजोरी होने लगे तो समझ जाए कि आपको किडनी रोग है।

नींद की समस्या होना

अगर ज्यादा थकावट होगी तो नींद आना भी जायस है, लेकिन कई बार ऐसा होता हैं कि कहीं जाओं तो अचानक से नींद आने लगे या बैठे-बैठे सो जाते हैं। बार-बार नींद आने की वजह से आपको कई बड़ी बीमारी का सामना करना पड़ सकता हैं। साथ ही आप किडनी रोग का भी सामना करना पड़ सकता हैं।

मांसपेशी में ऐंठन

शरीर के किसी भी हिस्से में मांसपेश में ऐंठन आ सकती हैं। जिसमें हमारी कंकालीय मांसपेशियां भी शामिल हैं जैसे पिंडली, पीठ, जांघ, या हाथ या स्मूथ मसल्स शामिल हैं। इसे आप ठीक तो कर सकते हैं, लेकिन अगर ये बार-बार होने लगे तो ये गुर्दे की बीमारी के संकेत होते हैं।

आयुर्वेदिक क्रोनिक किडनी रोग इलाज, किडनी ट्रीटमेंट इन इंडिया - कर्मा आयुर्वेदा, डॉ. पुनीत धवन

डॉ. पुनीत धवन एक बेहद योग्य आयुर्वेद विशेषज्ञ हैं, जिन्होंने पूरी तरह से प्राकृतिक और उत्कृष्ट उपचार तकनीकों के साथ गुर्दे की परेशानी से जूझ रहे लाखों मरीजों को ठीक किया हैं। डायलिसिस मुक्त समाज बनाने के लिए उन्होंने दुनिया के हर हिस्से को पार कर लिया है। सुरक्षित प्रक्रियाओं और सही आहार के साथ उन्होंने डायलिसिस / किडनी को किसी भी साइड इफेक्ट्स के बिना लाखों लोगों को ठीक किया है। साथ ही उनके गंभीर प्रयास गुर्दे की बीमारियों से जूझ रहे कई मरीजों के लिए एक आशीर्वाद के रूप में साबित हुए हैं।
Read more...
0

Working since

0

Patient Case Study

0

Patient Treated Globally

Latest news from Our Blog

स्टेज 4 किडनी डिजीज

क्रोनिक किडनी डिजीज – स्टेज – 4

क्रोनिक किडनी डिजीज प्रगतिशील किडनी की क्षति हैं जो धीमी और स्थिर हैं। किडनी इस ...

किडनी पेशेंट मोहम्मद युसुफ

कर्मा आयुर्वेदा । किडनी पेशेंट – मोहम्मद युसुफ

रोगी का नाम मोहम्मद युसुफ हैं जो मुंबई के रहने वाले हैं। वह किडनी की ...

फेफड़ों में किडनी फेल्योर द्रव

फेफड़ों में किडनी फेल्योर द्रव

किडनी फेल्योर के स्तर पर किसी व्यक्ति के शरीर के अंदर के दोनों किडनी समग्र ...

What Clients Say?

Media Partners

Kidney Treatment

We have good team for Kidney Treatments