Category: Blog

खीरी में किडनी फेल्योर का आयुर्वेदिक उपचार

खीरी में किडनी फेल्योर का आयुर्वेदिक उपचार

हमारे लिए भोजन करना अति आवश्यक है। जीव न केवल जीवित रहने के लिए बल्कि स्वस्थ और सक्रिय जीवन बिताने के लिए भोजन करते हैं। भोजन में अनेक पोषक तत्व होते हैं जो शरीर का विकास करते हैं, उसे स्वस्थ रखते हैं और शक्ति प्रदान करते हैं। भोजन में पाए जाने वाले आवश्यक तत्व हैं - कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा और तेल, विटामिन और खनिज। इसके अतिरिक्त भोजन में सभी पोषक तत्व होने चाहिए ; अर्थात् मांसपेशियों और उत्तकों को सबल बनाने के लिए प्रोटीन, ऊर्जा ...

कासगंज में किडनी फेल्योर का आयुर्वेदिक उपचार

कासगंज में किडनी फेल्योर का आयुर्वेदिक उपचार

भारत में जीवनशैली के बढ़ने के बाद से ही अनेक बिमारियों ने अपने पैर भारत में पसारने शुरू कर दिए है। बीते कई वर्षों में हमारे लाइफस्टाइल में एक बड़ा बदलाव आया है। जिसका सीधा बुरा असर हमारे स्वास्थ पर पड़ा है। आज के समय में हर व्यक्ति किसी न किसी बीमारी का शिकार हो चूका है। लेकिन इन सबका सबसे ज्यादा असर हमारी किडनी पर पड़ता है। लाइफस्टाइल बदलने के कारण हमारे पौष्टिक आहार की जगह अब जंकफूड ने ले ली है। दूध, दही ...

करौंदे द्वारा रोगों का उपचार

करौंदे-द्वारा-रोगों-का-उपचार

क्रैनबेरी को हिंदी में करौंदा कहा जाता है। क्रैनबेरी का वैज्ञानिक नाम वैक्सीनियम मैक्रोकारन (Vaccinium Macrocarpon) होता है। यह एक छोटा सा फल होता है। जो खाने में खट्टा और पूरी तरह से पक जाने के बाद मीठा हो जाता है। करौंदा एक प्रकार का दुर्लभ फल होता है, जो आसानी से प्राप्त नहीं किया जा सकता है । इसके पौधे पुरे साल हरे-भरे रहते है, इसी कारण इसे सदाबहार भी कहा जाता है। यह देखने में हलके गुलाबी या गहरे गुलाबी रंग का होता ...

आलूबुखारा द्वारा रोगों का उपचार

आलूबुखारा द्वारा रोगों का उपचार

लगभग टमाटर की तरह दिखाई देने वाला एक फल है "आलूबुख़ार"। अपने महरून राग के कारण यह टमाटर की भांति दिखाई देता है। खाने में स्वादिष्ट खट्टा- मीठा लगने वाला यह रेशेदार फल एक मौसमी फल है, जो गर्मियों के मौसम आता है। इसकी खेती भारत में कम की जाती है।  यह भारत में अफगनिस्तान आयात किया जाता है, क्यूंकि वह की जलवायु लगभग भारत की जलवायु जैसी ही है। यह रेशेदार फल जितना ही खट्टा - मीठा है उतना ही गुणकारी भी है, इसे ...